100 दिन के एजेंडे में कृषि क्षेत्र पर अधिक ध्यान, जानें पीएम मोदी 3.0 का प्लान

Published
First Cabinet Meeting of Modi 3.0
First Cabinet Meeting of Modi 3.0

PM Modi 3.0: पीएम नरेंद्र मोदी ने लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली है और शपथ लेते ही सरकारी कामकाज को शुरू कर दिए हैं। वहीं उनके मंत्रियों ने भी अपना कार्यभार संभाल लिया है। आइए जानते हैं मोदी सरकार 3.0 के 100 दिनों के एजेंडे के तहत किस सेक्टर पर सरकार का खास ध्यान रहने वाला है।

सरकार का कृषि क्षेत्र पर विशेष ध्यान

नई सरकार में मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और विदिशा से सांसद शिवराज सिंह चौहान को केंद्रीय मंत्री बनाया गया है। उनके कार्यभार संभालने के साथ ही कृषि मंत्रालय की तरफ से 100 दिन का एजेंडा जारी किया है। इसमें मुख्य ध्यान खाद्य तेल और दालों में देश को आत्मनिर्भर बनाना है। इसके अंतर्गत सरकार तूर (अरहर दाल) और उड़द दाल की उपज बढ़ाने के लिए खरीद गारंटी योजना लेकर आएगी। कृषि मंत्रालय ने अपने 100 दिन के एजेंडे में बताया है कि देश खाद्य तेल और दालों में आत्मनिर्भर बनेगा।

कार्यभार संभालते ही जारी की 17वीं किस्त

वहीं, पीएम मोदी ने अपने तीसरे कार्यकाल की पहली फाइल पर हस्ताक्षर किया और किसानों को सौगात दी। पीएम मोदी ने पहला आधिकारिक काम पीएम किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त जारी की। इससे 9.3 करोड़ किसानों को लाभ होगा और लगभग 20,000 करोड़ रुपए बांटे जाएंगे।

इस फैसले पर केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने सोशल मीडिया एक्स पर ट्वीट कर कहा कि, “किसान कल्याण के प्रति हमारे प्रधानमंत्री ने प्रतिबद्धता जग जाहिर है। तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद उन्होंने सबसे पहला निर्णय ही किसानों के हित में किया है। आज प्रधानमंत्री मोदी जी ने ‘पीएम किसान सम्मान निधि’ की 17वीं किस्त जारी कर दी, जिसके कारण देश के किसानों के बैंक खातों में ₹20,000 करोड़ की धनराशि सीधे पहुंच गई। मैं इस किसान हितैषी निर्णय के लिए मोदी जी को धन्यवाद देता हूं।”

आवास योजना के जरिए आम आदमी पर फोकस

मोदी कैबिनेट 3.0 की पहली बैठक में बड़ा फैसला लिया गया है। इस फैसले के तहत 3 करोड़ ग्रामीण और शहरी घरों के निर्माण के लिए पीएम आवास योजना के अंदर सहायता की जाएगी।

बता दें कि, अभी तक 10 सालों में आवास योजना के तहत पात्र गरीब परिवारों के लिए कुल 4.21 करोड़ घरों का निर्माण किया गया है। लोगों की आवास आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मोदी 3.0 बैठक में 3 करोड़ अतिरिक्त ग्रामिण और शहरी परिवार को आवास बनाने के लिए सहायता करने का फैसला लिया गया है।

लेखक: रंजना कुमारी