IND-PAK मैच पर खतरा, T20 World Cup के दौरान होगा आतंकी हमला?

Published

नई दिल्ली/डेस्क: अमेरिका का नाम लेने पर दुनिया की सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था का एहसास होता है, चीन का नाम लेने पर औद्योगीकरण और आधुनिकीकरण का एहसास होता है, भारत का नाम लेने पर संस्कृति, परंपरा और आईटी सेक्टर का एहसास होता है, वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान का नाम आते ही गरीबी, भुखमरी, गधे, आतंकवाद और भिखारियों का एहसास होता है, एक पल के लिए सोचिए अगर पाकिस्तान का अस्तित्व ही खत्म हो गया तो विश्व स्तर पर हम सबका मनोरंजन कौन करेगा?

बेचारा पाकिस्तान जानता है कि विज्ञान और तकनीक के नाम पर वह कभी खबरों में नहीं आ सकता और अगर गलती से आ भी गया तो ये भी उसके नाजायज बाप चीन की मदद के बिना संभव नहीं होगा। इसलिए ऐसा क्या किया जाए कि पाकिस्तान भी दुनिया में अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकें? ऐसे में पाकिस्तान वही करेगा जो उससे बेहतर कोई नहीं कर सकता, ‘दुनिया में आतंक फैलाना।’

पाकिस्तान ने दी धमकी

अब ये भिखारी भारत और उसके पड़ोसी देशों में आतंकवाद फैलाने के बाद उसे दूसरे देशों में निर्यात करेंगे। हाल ही में आप सभी ने पाकिस्तान टीम की ट्रेनिंग के वीडियो भी देखे थे, जो क्रिकेट ट्रेनिंग कम और आतंकियों की ट्रेनिंग ज्यादा लग रही थी। अब इन बेचारों के लिए क्रिकेट का विश्वकप जीतना तो संभव नहीं है, लेकिन इनके आतंकवादी बिना किसी की भागीदारी के विश्वकप जीत लेंगे। इसलिए आतंक विशेषज्ञ पाकिस्तान ने आगामी टी20 वर्ल्ड कप में आतंकी हमले करने की धमकी दी है।

क्या आप कहेंगे ये कैसा मजाक है भाई? देखिए, पाकिस्तान अपनी अर्थव्यवस्था को लेकर भले ही मजाक करता हो, लेकिन आतंकवाद को लेकर उससे ज्यादा गंभीर कोई नहीं है। यह टी20 अमेरिका और वेस्टइंडीज में खेला जाएगा। अब देखिए, उन्हें पता है कि अमेरिका पहले तोड़ेगा और बाद में बात करेगा। तभी तो इन आतंकी पिल्लों ने वेस्ट इंडीज को धमकी दे डाली। वेस्ट इंडीज कोई देश नहीं है, ये द्वीपों का एक समूह है।

इसलिए त्रिनिदाद और टोबैगो के प्रधानमंत्री कीथ रोलावे ने दावे के साथ कहा कि चिंता मत कीजिए, सुरक्षा एजेंसियां इससे निपटने के लिए काम कर रही हैं, लेकिन इस धमकी के बाद सभी देशों की सरकारें सक्रिय हो गई हैं। ख़ासकर भारत, क्योंकि ये पाकिस्तानी शुरू से ही हमें सबसे ज़्यादा प्यार करते आए हैं। ऐसे में हर खिलाड़ी की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता होगी।

लेखक: करन शर्मा